सोमवार, 6 सितंबर 2010

एक और सार्थक प्रयास

ब्लॉग जगत में सार्थकता  देख कर मुझे प्रसन्नता होती है | सभी को होती होगी | आज एक और सार्थक प्रयत्न नजर आया | श्री   का यह प्रयत्न शायद आपको पसंद आये :- 
www.gaonwasi.blogspot.com/
(लिंक नहीं बन पा रहा है ,इसलिए ब्लॉग का पता दे रहा हूँ) 

15 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर और शानदार प्रस्तुती!
    शिक्षक दिवस की हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  2. आदरणीय हेम जी ब्लॉग जगत के पाठकों से मेर परिचय करने के लिए सादर आभारी हों. धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  3. परिचय के लिये आभार .शिक्षक दिवस की हार्दिक बधाइयाँ

    .

    उत्तर देंहटाएं
  4. परिचय के लिये आभार
    अपने विचार प्रकट करे
    (आखिर क्यों मनुष्य प्रभावित होता है सूर्य से ??)
    http://oshotheone.blogspot.com/2010/09/blog-post_07.html

    उत्तर देंहटाएं
  5. ये लिन्क खुल नही रहा। दोबारा लिन्क दें धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  6. @ आदरणीय निर्मला कपिला जी , लिंक नहीं बन पाया था इसलिए ब्लॉग का पता दिया है जिसे टाईप करना पडेगा | ऊपर गिरधारी खंकरियाल जी की टिप्पणि आयी है | उनके नाम पर क्लिक कर के भी सम्बंधित पोस्ट तक पहुंचा जा सकता है |

    उत्तर देंहटाएं